पड़ोस की लड़की की मालिश


New Sex Stories in
Telugu    Hindi   Kannada   Malayalam   Tamil

हेलो दोस्तों मैं सोफिया खान हूं, आज मैं एक नई सेक्स स्टोरी लेकर आ गई हूं जिसका नाम है “पड़ोस की लड़की की मालिश – हॉट नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी भाग-2”। यह कहानी यश की है आगे की कहानी वह आपको खुद बताएँगे मुझे यकीन है कि आप सभी को यह पसंद आएगी।

मैंने एक हॉट नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी का आनंद उसके ही घर में लिया! मैं उनके मोच वाले पैर की मालिश करने उनके घर गया. तो आप भी जवान लड़की की पहली चुदाई पढ़ कर मजा लीजिये.

दोस्तो, मैं यश आपको अपने घर के पास रहने वाली रिया की मसाज और हॉट नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी बता रहा था.

अब तक कहानी के पहले भाग: हॉट नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि रिया की मसाज से उसकी वासना जाग गयी थी. वो मेरे साथ सेक्स का मजा लेना चाहती थी और मैं उसके साथ सेक्स का मजा लेना चाहता था, लेकिन अभी भी शर्म बाकी थी.

एक रात उसने मुझसे फ़ोन पर बात की और बात करते-करते सो गयी।

अब आगे हॉट नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी का मजा:

अगली सुबह मैंने एक कदम उठाया. मैंने आंटी को फोन करके बता दिया कि मुझे कुछ काम है और मैं आज नहीं आऊंगा.

ये ट्रिक इसलिए… क्योंकि मुझे पता चल गया था कि आंटी रोज मेरी मसाज के बाद मार्केट जाती हैं, इसलिए मैंने ऐसा कहा था.
मैं रिया से अकेले में मिलना चाहता था.

फिर मैं रिया के घर के बाहर एक कोने में छिपकर बैठा रहा और देखता रहा कि कब आंटी बाजार के लिए निकलेंगी और मुझे रिया के साथ अकेले रहने का समय मिलेगा। (नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी)

कुछ देर इंतजार करने के बाद रिया की मां बाजार के लिए निकलती दिखीं.
मैं बहुत खुश था कि तरकीब सफल रही।

मैंने जाकर घंटी बजाई.
अंदर से आवाज आई- कौन?
‘मैं यश हूं।’

रिया ने धीरे से आकर दरवाज़ा खोला.
जैसे ही मेरी नजर उस पर पड़ी तो वो थोड़ा शरमा गई और अपनी नजरें झुका लीं.

उसने कहा- तुम तो आने वाले नहीं थे!
मैंने कहा- काम हो गया है तो अभी आ गया, तो क्या तुम मेरे आने से खुश नहीं हो?

रिया- नहीं नहीं, ऐसा नहीं है. बस यूं ही पूछ लिया.

मैंने जानबूझ कर कहा- आंटी कहां हैं?
रिया- माँ बाज़ार गई हैं.

फिर हम दोनों Riya के कमरे की ओर चल पड़े.
रिया लंगड़ा कर चल रही थी तो मैंने उसे सहारा दिया और हम दोनों कमरे में आ गये।

मैं रसोई में गया और तेल गर्म किया.
आज भी रिया छोटे शॉर्ट्स और टॉप में थी.

वो लेट गयी और मसाज के लिए तैयार हो गयी.

मैंने सबसे पहले पैरों के तलवों से मालिश शुरू की और धीरे-धीरे ऊपर की ओर बढ़ा।
आज आंटी नहीं थीं तो तेल मालिश से रिया की वासना को और भड़काने का ये अच्छा मौका था.

मौका देखकर मैं अपना हाथ रिया के शॉर्ट्स के अंदर उसकी पैंटी तक ले गया।
रिया ने अपने हाथ से बेडशीट पकड़ ली. (नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी)

मैंने ऐसा बार-बार किया.
रिया अब गर्म होने लगी थी.

मैंने रिया से पूछा- कैसा लग रहा है?
वो बोली- बहुत अच्छा लग रहा है.

मैंने कहा- क्या तुम और मजा लेना चाहती हो?
उसने हाँ में सिर हिलाया और मुस्कुराया।

‘और मजा आएगा, बस मेरा साथ दो!’
रिया बोली- ठीक है.

अब मैंने रिया के दोनों हाथों पर तेल लगाया और बड़े प्यार से और हल्के दबाव से उसकी मालिश की।
उसने भी अपनी जांघें फैला दीं.

फिर मैंने रिया को लेटने को कहा और हाथ में तेल लेकर रिया की पीठ पर टॉप के अन्दर से मालिश करने लगा.
रिया ने ब्रा पहनी हुई थी तो मैंने ब्रा का हुक खोल दिया और पूरी गर्दन तक मसाज करता रहा.

वो एकदम शांत हो गई और बस मसाज का मजा लेने लगी.

कुछ देर बाद मैंने रिया को पलट कर सीधा कर दिया और हाथ में तेल लेकर रिया के पेट पर नाभि के आसपास लगाया और हल्के हाथों से मालिश करने लगा।

नाभि के आसपास मालिश करने से रिया और भी उत्तेजित होने लगी.
बीच-बीच में वो अपने होंठ भी काटती रही. (नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी)

मौका देख कर मैं अपना हाथ रिया के Big Boobs पर ले गया.
रिया की ब्रा का हुक पीछे से खुला हुआ था और उसके बूब्स पर ब्रा की पकड़ ढीली हो गयी थी.

थोड़ी हिम्मत करके मैं अपना हाथ बूब्स के पास ले गया और रिया के एक बूब्स को अपनी उंगली से छुआ और उसे छेड़ा।
रिया ने एक गहरी साँस ली और तुरंत अपनी आँखें उठाकर मेरी ओर देखा।

मैंने तुरंत अपना हाथ वहां से हटा लिया.
रिया कुछ नहीं बोली.

कुछ देर बाद मैंने फिर से हिम्मत जुटाई और रिया के बूब्स को अपने हाथ से छेड़ दिया।
इस बार उसने कुछ नहीं कहा.

मेरी हिम्मत और बढ़ गयी.

अब मैं बार-बार रिया के बूब्स को छेड़ने लगा।
जब भी मौका मिलता, बीच-बीच में हल्के से दबा भी देता।

रिया गर्म हो गई थी, उसकी साँसें तेज़ हो गई थीं।
ये सब देख कर मेरा 7 इंच का लंड भी पूरा खड़ा हो गया.

अब मैं अपने आप पर काबू नहीं रख पा रहा था.
मैंने अपने दोनों हाथ ब्रा के अन्दर ले जाकर रिया के दोनों मम्मों को धीरे से दबा दिया।
उसने कुछ नहीं कहा और एक गहरी साँस ली।

उसके निपल्स खड़े हो गये थे, जिससे पता चल रहा था कि रिया पूरी तरह से उत्तेजित हो चुकी थी.

अब मैं उस पर टूट पड़ा और रिया के दोनों मम्मों को जोर-जोर से दबाने लगा।
बीच-बीच में वो उसकी निप्पल को भी खूब छेड़ता था.

मैंने अपने बूब्स को ब्रा से आज़ाद कर दिया।

कुछ देर बाद मैंने रिया की नाभि को अपने हाथों से मसाज करना शुरू किया और नीचे तक किया.

जब मुझे उसकी तरफ से हरी झंडी मिल गई तो मैंने अपनी एक उंगली रिया की पैंटी के अंदर कर दी.
उन्होंने अपने बाल पूरी तरह से शेव कर लिए थे. उसकी चूत पूरी सूज गयी थी.

रिया ने कुछ नहीं कहा तो मैंने अपनी उंगली और अन्दर डाल दी और धीरे से उसकी चूत के क्लिटोरिस को सहलाया.
उसने अपनी दोनों टाँगें आपस में कसकर जोड़ लीं।

इस वजह से मेरी उंगली ज्यादा नीचे तो नहीं जा सकी लेकिन मैं क्लिटोरिस को ही मसलने लगा. कुछ देर रगड़ने के बाद रिया की साँसें तेज़ हो गईं, उसने अपनी टाँगें फैला दीं और वो ढीली हो गई। (नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी)

अब मैं अपने हाथ को चूत के होंठों पर ऊपर-नीचे घुमाने लगा।
रिया को ऐसा महसूस हो रहा था मानो बिन पानी की मछली हो।

मैंने धीरे से उसकी शॉर्ट्स और पैंटी उतार दी.
रिया अपनी चूत को अपने हाथों से छुपाने लगी.

कुछ देर बाद मैं रिया की टांगों के नीचे आ गया और दोनों टांगों के घुटनों को मोड़ कर मोड़ दिया.
फिर रिया का हाथ उसकी चूत से हटा दिया गया.

क्या अद्भुत चूत थी उसकी… हल्के भूरे रंग की चूत के गीले होंठ… एकदम गुलाबी Tight Chut की पंखुड़ियाँ।
वो एकदम छोटी सी फूली हुई और बंद चूत बहुत प्यारी लग रही थी.

You can install this Beep Stories Web App to get easy access

मैंने हाथ में तेल लिया और चूत के आसपास मलने लगा.
रिया आंखें बंद करके मसाज का मजा ले रही थी.

फिर मैंने नीचे झुक कर रिया की चूत में अपनी जीभ डाल दी.
रिया ने झट से आँखें खोलीं और बोली- क्या कर रहे हो?

मैंने कहा- मेरे हाथ थक गए हैं इसलिए जीभ से मसाज कर रहा हूं.
ये कहते हुए मैं रिया की चूत में लगातार अपनी जीभ घुमाता रहा.

रिया लगातार अपनी कमर उठा कर मेरा साथ दे रही थी.
बीच-बीच में मैं अपनी जीभ रिया की चूत में घुसाने की कोशिश करता.
कुछ देर तक ऐसा ही चलता रहा, फिर जब रिया बहुत ज्यादा कामुक हो गई.. तो मैं रुक गया।

रिया- रुक क्यों गए?
मैं: अब तो मेरी जीभ भी थक गयी.

रिया बड़ी बेचैनी से कहने लगी- लेकिन अभी मुझे सबसे ज्यादा मजा आ रहा था!

मैंने कहा- मैं तुम्हें और भी मजा दे सकता हूं, लेकिन मुझे मत रोकना. बस मजे करते रहो.
रिया- ठीक है, लेकिन जल्दी करो. (नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी)

फिर मैंने अपने सारे कपड़े उतार दिए.
मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया था. गहरे भूरे रंग का 7 इंच लंबा और मोटा लंड बार-बार हिलता देख रिया शर्मा गई.

उसने अपनी नजरें दूसरी तरफ घुमा ली और चोर नजरों से लंड को देखती रही.

मैं रिया की टांगों के बीच आ गया और अपने लंड का सुपारा बाहर निकाला और रिया की चूत के होंठों पर ऊपर से नीचे तक रगड़ने लगा. रिया ‘आ…ई…’ की आवाजें निकालने लगी। मेरा लंड और अधिक खड़ा हो गया.

मैं बार-बार लंड को रिया की चूत की भगनासा से लेकर उसकी चूत के छेद तक ले जाता और हल्का सा अन्दर धकेलता और बाहर निकालता। इस सब क्रिया से रिया बहुत कामुक हो गई और अपनी कमर को ऊपर-नीचे करने लगी।

अब रिया की चूत से चूत का रस निकलने लगा.
रिया बेचैनी के मारे कराहने की आवाजें निकाल रही थी।

मैंने रिया की चूत में अपना लंड फंसाया और उसके ऊपर लेट गया, उसकी गर्दन, कान और गालों को चूमने लगा.
मैंने रिया के होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसके दोनों होंठों को बारी-बारी से बेतहाशा चूमने लगा।

रिया भी मेरा भरपूर साथ देने लगी.
उसने मुझे कस कर पकड़ लिया और अपने नाखून गड़ाने लगी.

फिर मैंने रिया की चूत में अपना लंड अंदर तक डालने का सोचा.
लेकिन डर था कि ऐसा करने से रिया की चूत फट जायेगी. क्योंकि रिया की चूत बहुत छोटी थी और मेरा लंड बहुत बड़ा था.

लेकिन मैं अपनी मंजिल के इतने करीब आकर खाली हाथ नहीं जाना चाहता था.

मैं अपने लंड को रिया की चूत में ऊपर-नीचे रगड़ने लगा, जिससे रिया की चूत और खुल गयी.
अब मैंने रिया की चूत पर अपने लंड का दबाव बढ़ाया तो लंड थोड़ा सा अंदर गया और किसी चीज से टकराया.

मैं समझ गया कि यह क्या है!
ये रिया की चूत की झिल्ली थी जो रिया की वर्जिनिटी का सबूत थी.

मैं बहुत खुश था, पर झिल्ली आसानी से लंड को अन्दर नहीं जाने दे रही थी।
इसके लिए खून बहाना जरूरी था.

मैंने लंड को थोड़ा सा बाहर खींचा और एक गहरी सांस ली और पूरी ताकत लगाकर लंड को रिया की चूत में गहराई तक घुसा दिया.

लंड पूरा चूत के अन्दर था.
लंड को कसी हुई चूत का दबाव और गर्म खून का एहसास होने लगा.
आख़िर मिशन पूरा हो गया, मेरे मोटे लंड ने छोटी सी चूत की संकरी गलियों में अपनी जगह बना ली थी।

रिया ने जोर से आवाज निकाली- आह आई…ई…मैं मर गई. इसे बाहर निकालो।

इतना कह कर वो तड़पने लगी और मुझे जोर से धक्का दिया और बोली- निकालो प्लीज़, बहुत दर्द हो रहा है… तुमने तो कहा था मज़ा आएगा लेकिन तुमने तो मुझे दर्द ही दे दिया झूठे… आह.

लेकिन मुझे पता था कि एक बार मैंने अपना लंड बाहर निकाला तो रिया मुझे दोबारा अन्दर नहीं डालने देगी.
मैंने रिया की हर बात को अनसुना कर दिया और उस पर दबाव बनाते हुए उसके ऊपर लेट गया।

जब रिया का विरोध थोड़ा कम हुआ तो मैंने धीरे-धीरे झटके लगाने शुरू कर दिए।

अब धीरे-धीरे रिया का विरोध ख़त्म हो गया।
उसने खुद को मेरे हवाले कर दिया था.

मैंने झटकों की स्पीड बढ़ा दी.
रिया को भी मजा आने लगा.
उसने मुझे अपने दोनों पैरों से पकड़ लिया.

मैं एक तरफ से धक्के लगाता रहा और दूसरी तरफ से रिया को चूमता रहा.

कुछ देर Chut Chudai के बाद हम दोनों अलग हुए.

मैंने देखा कि रिया की चूत और मेरा लंड खून और वीर्य से सना हुआ था.
ये सब देख कर रिया डर गयी और बोली- ये खून!

मैंने कहा- ऐसा आपकी योनि की झिल्ली फटने के कारण हुआ है. अब तो तेरी चूत पूरी खुल गयी है. अब खून नहीं बहेगा.

फिर मैंने रिया को डॉगी पोजीशन में लाया और अपना लंड उसकी चूत में सेट किया और अपने दोनों हाथों से रिया की कमर पकड़कर उसे अपनी तरफ खींचा और एक ही झटके में अपना पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया. (नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी)

चूत अभी भी काफी टाइट थी लेकिन काम रस के कारण लंड आसानी से चूत में चला गया.

रिया ‘आ… उई… माँ…’ जैसी आवाजें निकालने लगी।
पहले धीरे-धीरे, फिर बाद में गति बढ़ती गई।

अब मैं तेजी से रिया की चूत को चोदने लगा.
बीच-बीच में मैं रिया के मम्मे भी खूब दबाता रहा.

कुछ देर बाद मैंने रिया को उल्टा लिटा दिया और उसकी कमर के नीचे एक तकिया लगा दिया.
इससे उसकी चूत दिखने लगी.

फिर मैंने लंड को सैट किया और अन्दर डाल दिया. उसने रिया को अपने पूरे शरीर से पकड़ कर उसे बेतहाशा चोदना शुरू कर दिया।

इसके बाद मैं लेट गया. अब रिया मेरे ऊपर आ गयी और अपनी Moti Gand खूब हिला हिला कर चुदवाने लगी.
मैं भी नीचे से झटके देता और उसके मम्मे दबाता.

कुछ देर बाद रिया स्खलित हो गई और मेरे बगल में लेट गई.
मेरा खेल अभी बाकी था.

मैंने लेटे-लेटे ही रिया के पीछे से अपना लंड डाल दिया और फुल स्पीड से उसे चोदने लगा.
कुछ देर बाद मैं भी रिया की चूत में ही स्खलित हो गया.

इस तरह मैंने हॉट नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी से पहले सेक्स का आनंद लिया।

मैंने जल्दी से अपने कपड़े पहने और रिया को एक प्यारा सा चुम्बन दिया और वहाँ से चला गया क्योंकि आंटी कभी भी आ सकती थीं।

शाम को जब मेरी रिया से बात हुई तो उसने बताया कि उसे बहुत जलन हो रही थी और उसकी चूत सूज गयी थी. लेकिन आज बहुत मजा आया. मैं दो दिन तक नहीं गया.

बाद में रिया ने बताया कि उसकी चूत दो दिन तक सूजी हुई रही. उस दिन तो कोई चुदाई नहीं हुई लेकिन बाद में उसने खुल कर अपनी चूत पेश कर दी.

अब जब भी आंटी घर पर नहीं होतीं तो रिया खुद फोन करके चुदाई के लिए बुलाती है. इस तरह लॉकडाउन के दौरान मेरे लिए चूत चुदाई का इंतजाम हो गया.

आपको मेरी सच्ची हॉट नेबर गर्ल सेक्स स्टोरी कैसी लगी, कृपया कमेंट में बताएं.

अगर आप ऐसी और कहानियाँ पढ़ना चाहते हैं तो आप “” की कहानियां पढ़ सकते हैं।