लंड की भूखी भाभी ने सेक्स के लिए रिझाया: XXX हॉट भाभी स्टोरी


New Sex Stories in
Telugu    Hindi   Kannada   Malayalam   Tamil

हेलो दोस्तों मैं सोफिया खान हूं, आज मैं एक नई सेक्स स्टोरी लेकर आ गई हूं जिसका नाम है “लंड की भूखी भाभी ने सेक्स के लिए रिझाया: XXX हॉट भाभी स्टोरी”। यह कहानी सचिन की है आगे की कहानी वह आपको खुद बताएँगे मुझे यकीन है कि आप सभी को यह पसंद आएगी।

XXX हॉट भाभी स्टोरी का मजा मुझे तब मिला जब मैंने उन्हें अपनी चूत में उंगली करते हुए देखा. भाभी बहुत गर्म हो रही थी तो मैं उनके पास गया और सेक्स का मजा लिया.

दोस्तो, मेरा नाम सचिन है। मैं इंदौर शहर में रहता हूँ और मेरी उम्र 20 साल है.
मेरे परिवार में मेरे पिता, माँ और एक छोटी बहन है।

XXX हॉट भाभी स्टोरी यह मेरी पहली सेक्स कहानी है!

मेरे पिता के कार्यालय के सहकर्मी हमारे पड़ोस में रहते हैं।
हमारे घरों की छतें एक दूसरे से मिलती हैं.

उनके परिवार में पत्नी देविका और 2 साल की बेटी है। इन दोनों की शादी को अभी ज्यादा समय नहीं हुआ है।

देविका जी 27 साल की हैं और एक स्कूल में टीचर हैं.

मैं मेडिकल की पढ़ाई कर रहा हूं. मेरा लंड काफी बड़ा है और खड़ा होने पर काले सांप जैसा दिखता है।
और मुझे बॉडी बिल्डिंग का भी शौक है और मैं अच्छी बॉडी वाला एक जवान लड़का हूँ.

बात करीब एक साल पुरानी है और तब की है जब मैं 12वीं की परीक्षा पास कर चुका था और मेडिकल एंट्रेंस की तैयारी कर रहा था. उस समय सर्दी का मौसम था और मैं छत पर धूप में बैठकर पढ़ाई करता था।

पास की छत पर Devika भाभी की ब्रा और पैंटी सूख रही थी. मैं अक्सर उस पर मुठ मारता था और अपना माल उसकी ब्रा पर छोड़ देता था।

अब मैं आपको देविका भाभी के बारे में बताता हूँ. वो बहुत सेक्सी जवान औरत थी और मुझे बहुत भूखी नजरों से देखती थी.
उसका साइज 34-28-36 था जो मुझे बाद में सेक्स के दौरान पता चला. (XXX हॉट भाभी स्टोरी)

उसके बूब्स और गांड की गोलाई देख कर ही मेरा लंड फूलने लगा.
एक दिन मैं ऐसे ही पढ़ने के लिए छत पर गया और उसकी ब्रा देखकर मेरा मन मुठ मारने का हुआ.

मैं जैसे ही उनकी छत पर गया तो मुझे वासना भरी कराहें सुनाई देने लगीं.
मैं इन आवाजों को अच्छी तरह से पहचानता था क्योंकि मैंने ब्लू फिल्मों में लड़कियों को चोदते समय ऐसी आवाजें सुनी थीं।

एक क्षण के लिए मैं स्तब्ध रह गया कि क्या करूँ।
फिर मैंने सीढ़ियों के ऊपर उनकी छत पर बने शेड से नीचे झाँककर देखा तो मेरी आँखें खुली की खुली रह गईं।

देविका भाभी ने अपनी सलवार घुटनों तक उठा रखी थी. वह एक हाथ से अपनी चूत में उंगली कर रही थी और दूसरे हाथ से अपने Big Boobs को मसल रही थी।

उसके मुँह से कोई नाम निकल रहा था।
मैंने देखा तो वो बार-बार मेरा नाम ले रही थी.

मुझे उसे चोदने का यह मौका बहुत अच्छा लगा इसलिए मैंने सोचा कि अगर मैं इसे अभी चोद दूं तो हमेशा इसका मजा ले सकूंगा. (XXX हॉट भाभी स्टोरी)

मैं तुरंत जाकर उसके सामने खड़ा हो गया.
जैसे ही उसने मुझे देखा तो उसके चेहरे का रंग उड़ गया.

मैं तुरंत उस पर झपटा और उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिये.
वो भी बहुत गर्म हो चुकी थी इसलिए वो भी मेरा साथ देने लगी.

मैंने झट से अपना लोअर निकाला और अपना काला नाग उसके हाथ में दे दिया.

पहले तो वो मेरा लंड देख कर डर गईं, लेकिन उस वक्त भाभी की चुत में आग लगी हुई थी.. तो उन्होंने बिना कुछ सोचे-समझे मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगीं।

उसके मुँह की गर्माहट महसूस करके मेरे लंड में एक सनसनाहट सी दौड़ गई और मैं उस समय स्वर्ग की सैर करने लगा।

मैं इतना उत्तेजित हो गया कि मैंने उसका मुँह पकड़ लिया और अपना लंड उसके गले में डाल दिया।
भाभी की आंखों से आंसू निकल आये लेकिन मैंने उस पर ध्यान नहीं दिया और तेजी से धक्के मारने लगा.

चूँकि मैं भी उत्तेजना से भर गया था इसलिए ज्यादा देर तक टिक नहीं सका और उसके गले में ही स्खलित हो गया।
उसने भी कोई विरोध नहीं किया और मेरे लंड का पूरा रस चखते हुए पी गयी.

उसने मेरा मुरझाया हुआ लंड अपने मुँह से निकाला और मेरी आँखों में देखते हुए उसे चाट कर साफ़ कर दिया।

उसकी इस कामुक हरकत को देख कर मेरे लंड में फिर से हल्का सा तनाव आने लगा.

फिर हम दोनों बैठ कर बातें करने लगे.
मैंने उससे इतने अचानक आने के लिए माफ़ी मांगी क्योंकि मुझे चिंता थी कि कहीं वह मुझसे शिकायती लहजे में बात न करने लगे।

उन्होंने कहा- इसके लिए माफी मांगने की जरूरत नहीं है. ये सब मैंने जानबूझ कर किया.
मुझे कुछ समझ नहीं आया.

उसने मुझे बताया कि उसका पति उसे ठीक से चोद नहीं पाता है और उसका लंड भी छोटा और पतला है. उनका वीर्यपात भी जल्दी हो जाता है। (XXX हॉट भाभी स्टोरी)

मैं उसकी बातें बड़े ध्यान से सुन रहा था.

मैंने उससे पूछा- तुमने मेरे बारे में क्या सोचा? मेरा मतलब है कि तुम मेरा नाम क्यों ले रही थी?
उसने बताया कि उसने मुझे उसकी ब्रा में हस्तमैथुन करते हुए देखा था और तभी से उसके मन में मेरा लंड अपनी चूत में लेने की इच्छा थी.

इसीलिए आज वह जानबूझ कर मेरे आने के समय छत पर आ गयी और मुझे इस तरह से रिझाया कि मैं आकर्षित हो जाऊं.

मुझे भी लगा कि अब कोई दिक्कत नहीं है. इसलिए मैं भी उससे खुल कर बात करने लगा.

मैंने उनसे कहा कि मैं भी तुम्हें बहुत पसंद करता हूं और कुछ से तुम्हारी Chut Chudai करना चाहता हूं।
उसने भी मेरे गले में हाथ डाल कर कहा- मैं भी तुम्हारा लंड अपनी चूत में लेने के लिए तरस रही हूँ मेरे राजा.

मैंने भी उसे कस कर अपनी बांहों में पकड़ लिया और उसके होंठों को चूमने लगा.
उसी वक्त मुझे भैया की याद आई कहीं वो आ ना जाएं.

You can install this Beep Stories Web App to get easy access

इस पर मेरी भाभी ने मुझे बताया कि उनके पति अपने काम से 4 दिन के लिए बाहर गये हैं. अब हम दोनों को किसी बात की चिंता नहीं है. बस कुछ बोलो और अपने घर में ऐसा इंतजाम करो कि हमारी मुलाकात में कोई विघ्न न हो.

मैंने उससे कहा- हां ठीक है, मैं भी अपने घर पर कुछ इंतजाम करके आऊंगा.
छत के रास्ते अपने घर वापस जाकर मैंने अपनी मां को बताया कि मेरे एक दोस्त की तबीयत खराब हो गई है और वह अस्पताल में भर्ती है. उसके घरवाले भी यहां नहीं हैं इसलिए मुझे उसके पास जाना होगा.

मम्मी पापा ने भी मना नहीं किया और मुझे जाने को कहा. मैं अपने कुछ कपड़े लेकर घर से निकला और सावधानी से बगल वाले घर में आ गया। (XXX हॉट भाभी स्टोरी)

तभी हम दोनों उसके बेडरूम में आ गये.
भाभी और मैं एक दूसरे पर टूट पड़े.

मेरा मन भाभी के होंठों को चबाने का कर रहा था, इसलिए मैं उनके होंठों को चबाते हुए बेरहमी से चूस रहा था.

वह दर्द में थी इसलिए मैंने उसे छोड़ दिया।’

वो मुझसे बोली- राजा, तुमने बहुत जोर से चबाया है.. मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूँ.. आराम से करना।
मैंने उसकी बात मान ली.

फिर हम दोनों एक दूसरे के कपड़े उतार कर नंगे हो गये और मैं भाभी के मम्मों को चूसने लगा.

भाभी को भी अपना दूध मेरे मुँह में पिलाने में बहुत मजा आ रहा था.
उसकी चूत बिल्कुल साफ़ थी इसलिए मैं उसकी Tight Chut को अपने हाथ से सहला रहा था और उसकी भगनासा को अपनी दो उंगलियों से पकड़ कर दबा रहा था।

भाभी को नीचे और ऊपर एक साथ मजा आ रहा था और वो बहुत गर्म हो चुकी थीं.

जल्द ही भाभी ने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और मैंने उन्हें 69 पोजीशन में आने को कहा.
भाभी मेरे ऊपर चढ़ गईं और अपनी टांगें खोल कर अपनी चूत मेरे मुँह पर रख दीं.

मैं किसी प्यासे कुत्ते की तरह उनकी चूत चाटने लगा और भाभी मेरे लंड को गन्ना समझ कर चूसने में लगी हुई थी.

अपनी चूत चटवाते समय भाभी अपने मुँह से कामुक कराहने की आवाजें निकाल रही थीं जिसके कारण वो बार-बार मेरे लंड को अपने मुँह से बाहर निकाल लेती थीं और बाहर से ही चाटने लगती थीं। (XXX हॉट भाभी स्टोरी)
फिर वो मेरे टट्टों को चाटने लगी.

दरअसल, जिस तरह से वह मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूस रही थी उससे मेरा खून खौल रहा था और मेरा लंड तनावग्रस्त हो रहा था।

उससे उत्तेजित होकर मैंने अपनी पूरी जीभ उसकी चूत के अंदर डाल दी और अपनी खुरदरी जीभ से उसकी चूत की दीवारों को रगड़ रहा था.

मुझे उसकी चूत का नमकीन स्वाद बहुत अच्छा लग रहा था. हम दोनों ही कामातुर हो गये थे और हम दोनों को दीन दुनिया से कोई मतलब नहीं था.

कमरे में हम दोनों की कामुक आवाजों का मधुर संगीत गूँज रहा था. ‘ऊऊ ऊऊईई ई माआआ आआ आआ आआ आराम से आआह…’

कुछ ही देर में भाभी ने अपना धैर्य खो दिया और मेरे मुँह में ही स्खलित हो गईं.
मैं उनका सारा नमकीन पानी पी गया.

कुछ देर तक लगातार चुत चाटने से भाभी की चुत में दोबारा करंट आ गया और वो चुदाई के लिए तड़पने लगीं.

अब मैं मिशनरी पोजीशन में आ गया.
उसने कहा कि उसकी चूत एक तरह से अभी तक कुंवारी है. उसकी बेटी ऑपरेशन से हुई थी और उसके पति का लंड भी छोटा है इसलिए आराम से चोदना. (XXX हॉट भाभी स्टोरी)

मैंने कहा- तो तुम्हारी चूत कुंवारी कैसे हो गयी? क्या बच्चा पैदा करने के लिए वीर्य सुई से डाला था?

वो हंसने लगी और बोली- चोदना और लंड के अंदर तरल पदार्थ जाना दो अलग-अलग बातें हैं. मेरे पति का पतला लंड मेरी चूत को ठीक से चोद नहीं पाता है.

आपके लंड के सामने मेरे पति के लंड को लुल्ली कहना उचित होगा. इसीलिए मैं तुमसे कह रही हूं कि मेरी चूत तुम्हारे लंड के लिए अभी तक कुंवारी है.

मैंने उन्हें आश्वासन दिया कि मैं इसे आराम से करूंगा.
जबकि मेरे मन में इसका विपरीत हो रहा था. मुझे लड़कियों को चोट पहुँचाने में मजा आता है.

मैंने उसकी चूत पर ढेर सारा थूक गिराया और अपना लंड उसके मुँह में डाल दिया और उसे थूक से भिगो दिया.

फिर मैंने अपना लंड उनकी चूत के छेद पर रखा और एक धक्का मारा और मेरे लंड का सुपारा भाभी की चूत के अंदर घुस गया.

उसने जोर से आह भरी तो मैं रुक गया.
उसने दर्द भरी आवाज़ में मुझसे कहा कि धीरे धीरे डालना.

मैंने अपना लंड पीछे खींचा और एक जोरदार धक्का मारा और मेरा पूरा लंड जड़ तक उसकी चूत में घुस गया.

भाभी चिल्लाने लगीं, ‘ऊऊ ऊऊईईई माआआ… मर गई… मेरी फट गई… धीरे करो… आह कुत्ते ने फाड़ दी… ऊ ऊ ऊई ईईई माआआआ आआआआ आआआआआआआ…’।

भाभी की चूत फट गयी और आँखों से आंसू निकल आये.

वो छटपटाने लगी और कहने लगी- आह बाहर निकालो ऊऊ ऊउई ई माआआ… आआह आआ मैं मर गई… ऊ ऊ ऊई ई माआआ… मर गई… मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसकी आवाज बंद कर दी. (XXX हॉट भाभी स्टोरी)

कुछ देर बाद वो शांत हो गई और मैंने झटके लगाने शुरू कर दिए.

वो अपने मुँह से कामुक आहें निकालने लगी.
‘आह आह आह… उफ्फ्फ ऊऊ… ऊह हहह… ऊऊ ऊउईई ईईई माआआ… मर गई… आराम से करो!’

मैं डालने में व्यस्त रहा. भाभी की चूत बिल्कुल किसी कुंवारी लड़की की तरह लग रही थी.

हमारी चुदाई करीब 20 मिनट तक चलती रही और फिर मैं उसकी चूत में ही झड़ गया.
अगले चार दिनों तक मैंने उसे अलग-अलग पोजीशन में खूब चोदा और उसकी चूत का भोसड़ा बना दिया.

उनके स्तन काट कर लाल कर दिये। वह ठीक से चल भी नहीं पा रही थी.
फिर मैं अपने घर वापस आ गया और अब जब भी हम दोनों को समय मिलता, हम सेक्स करने लगते.

अगली सेक्स कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने उसकी कुंवारी गांड फाड़ी और उसकी Moti Gand को कुआं बना दिया.

आपको XXX हॉट भाभी स्टोरी कैसी लगी? मुझे मेल और कमेंट में बताएं।

अगर आप ऐसी और कहानियाँ पढ़ना चाहते हैं तो आप “” की कहानियां पढ़ सकते हैं।