हैदराबाद वाली कुंवारी टीचर को नंगी करके चोदा – Antarvasna Sex Story

दोस्तो, मेरा नाम राज है.
मैं कॉलेज का स्टूडेंट हूं और डी-फार्मा कर रहा हूँ. मैं हैदराबाद ,हब्सीगुडा में रहता हूं.
मुझे कॉलेज में सभी साथी लाला कह कर ही बुलाते हैं.

आज मैं आपको अपनी एक हॉट पोर्न टीचर Xxx कहानी सुनाने जा रहा हूं कि कैसे मैंने अपनी टीचर के साथ सेक्स किया.

मेरे ऊपर जब से जवानी चढ़ी है, तभी से मुझको सेक्स का भूत सवार हो गया था.

जिस कॉलेज में मैं पढ़ने जाता था, वह काफी बड़ा कॉलेज था और उधर काफी मस्त मस्त टीचर्स व लड़कियां थीं.

मैं ज्यादातर टीचर्स और लड़कियों की बड़ी बड़ी गांड और उठे हुए मम्मों को ही देखा करता था.
मेरे जी में आता था कि अभी जाकर इनके दूध दबा दूँ या गांड मसल दूँ.

ऐसे ही देखते देखते कुछ दिन निकल गए किसी भी लड़की या टीचर ने मुझे घास नहीं डाली.

उन दिनों कॉलेज में सभी पीरियड में पढ़ाई होती थी.
बस एक पीरियड खाली रहता था, उसमें पढ़ाई नहीं हो रही थी.

शायद कॉलेज में उस विषय की फ़ैकल्टी की दिक्कत चल रही थी.

जब मैंने पता किया कि पीरियड क्यों नहीं होता तो एक टीचर बताने लगे कि जो टीचर तुम्हारी क्लास लेती हैं, वे अभी छुट्टी पर चल रही हैं.

जो मैडम छुट्टी पर चल रही थीं, उन्हें मैंने देखा नहीं था और मुझे यह भी पता नहीं था कि वही वाली टीचर यहां की सबसे हॉट टीचर हैं.

ऐसे ही दो सप्ताह बीत गए, तब जाकर वे टीचर मैडम मेरी क्लास में पढ़ाने आईं.

उन्हें देख कर मेरा तो मुँह खुला का खुला ही रह गया, आंखें एकटक उनको ही देखती रह गईं.
मैडम ऐसी माल थीं मानो जैसे जन्नत की कोई हूर धरती पर उतर आई हो.

उनके गुलाबी मखमली गाल, खरबूजे जैसे बड़े बड़े मम्मे उनकी छाती पर टंके हुए थे.

मैडम की गांड का इलाका दो बड़े तरबूजों से सजाया हुआ था जो उनकी मतवाली चाल पर बड़े ही अनुशासित तरीके से ऊपर नीचे होकर लौंडों के लंड की उठक बैठक करवा रहे थे. मैडम हॉट Hyderabad Escort की महिला से भी काफी सुन्दर थी.

मेरा ध्यान उनके स्तनों और नितंबों के ऊपर से हट ही नहीं रहा था.
सच में उन्हें देख कर ही मेरा सामान खड़ा हो गया था.

उसी समय मैंने सोच लिया था कि एक बार तो किसी भी तरह से इस हॉट टीचर को चोदना है.

अब मैंने उन टीचर महोदया का नाम मालूम किया.
उनका नाम अश्विनी (विनी) था.
वे हमें ह्यूमन एनाटॉमी एंड फिजियोलॉजी पढ़ाने आई थीं.

अब चूंकि मैंने अपने मन में यह विचार पक्का कर लिया था कि इन टीचर को दोनों तरफ से बजाना है, तो मैंने उनके सामने एक अच्छा छात्र दिख कर उन्हें प्रभावित करने का प्रयास शुरू किया.

मैं उनके पढ़ाए जाने वाले हर सब्जेक्ट को ज्यादा ध्यान देकर पढ़ने लगा और मैं उनसे काफी सवालात भी पूछने लगा था ताकि टीचर मैडम का ध्यान मेरी तरफ बना रहे.

कुछ ही समय बाद मैं उन टीचर से बातें करने लगा था.
यह मेरी होशियारी ही थी कि मैंने एक दिन उनका मोबाइल नंबर हासिल कर लिया और अब मैं उनके साथ व्हाट्सअप पर भी बात करने लगा था.

मैडम भी मेरे साथ सहज होती चली गईं.
कुछ ही समय बाद मेरा शुमार मैडम के खास चहेते स्टूडेंट्स में होने लगा.

मैं लंच टाइम में उनके साथ ही खाना भी खाने लगा था और उनके साथ हंसी मजाक भी करने लगा था.

मैडम भी मेरे साथ मज़े से बात करती थीं.
हम दोनों दोस्त की तरह एक दूसरे के साथ रहने लगे थे.

मैडम के साथ घूमने जाना और उनके साथ मस्ती आदि करना सब कुछ सहज हो गया था.
उन्हें किसी भी काम के लिए सिर्फ मेरा नाम ही याद आने लगा था.

कुछ दिन बाद कॉलेज में डांस प्रोग्राम था, वहा पर काफी मज़ा आने वाला था.

चूंकि अब मैं विनी मैडम का अच्छा दोस्त बन गया था तो उन्होंने मुझे ही अपना डांस पार्टनर बना लिया था.

ये कॉलेज प्रशासन की तरफ से नोटिस दिया गया था कि किसी भी टीचर के साथ स्टूडेंट डांस नहीं करेगा.
फिर भी विनी मैडम ने प्रिंसिपल से बात करके उन्हें मना लिया था.

अन्दर ही अन्दर मैं भी बहुत खुश था. फिर हम दोनों ने डांस की प्रैक्टिस शुरू की.

चूंकि मैं हॉस्टल में रहता था, तो विनी मैडम वहां नहीं आ सकती थीं.

इसी वजह से उन्होंने मुझे अपने घर का पता दे दिया.
मैं उनके घर जाकर रोज उनके साथ प्रैक्टिस करने जाने लगा.

उनके घर में उनका छोटा भाई, मम्मी और पापा रहते थे.
हम दोनों एक अलग कमरे में डांस प्रैक्टिस करते थे.

विनी मैडम प्रैक्टिस के समय जो कपड़े पहनती थीं, आह क्या ही बताऊं यार … मेरे लंड की तो वाट ही लग जाती थी.
डांस करते वक्त मानो जन्नत की सैर होने लगती थी.

उनके बड़े बड़े स्तन और लचीली गांड को देख कर मुझसे रहा ही नहीं जाता था.
हम दोनों साथ में चिपक कर डांस करते थे. मुझको तो इतना ज्यादा मजा आता था कि मेरा लंड पानी पानी हो जाता था.

विनी मैडम को छूकर मेरे अन्दर का शैतान जाग जाता था, पर मैं खुद पर संयम बनाए रखता था.

हम दोनों ही डांस के साथ मस्ती भी करते थे.
उसी मस्ती करते समय हमारे हाथ कहीं भी टच हो जाते थे.

एक बार ऐसे ही डांस करते हुए मैंने विनी मैडम की बुर पर हाथ रख दिया.
तो वे मुझे आश्चर्य से देखने लगीं.

मैंने सॉरी बोला तो विनी मैडम ने जबाव में मेरे लंड को पकड़ लिया.
मैं एकदम से हड़बड़ा गया कि इन्होंने यह क्या कर दिया?

एक पल को मैंने उनकी आंखों में देखा और उनकी आंखों में शरारत देखते ही मैंने भी उनके एक मम्मे को हाथ में भर कर जोर से दबा दिया.
इससे विनी मैडम का जोश बढ़ने लगा.
वे मेरे लौड़े को मसलने लगीं.

यह देख कर मुझे भी मजा आने लगा तो मैंने उनसे अलग होकर जल्दी से स्पीकर की आवाज को थोड़ा तेज कर दिया और दरवाजा अन्दर से बंद कर दिया.

वे भी मदहोशी भरी नजरों से मुझे देखने लगीं.
तब मैं समझ गया कि आज घोड़ी गर्म ही और सवारी करवाने को मचल रही है.

मैं झपट कर विनी के पास गया.
तो उन्होंने मेरी शर्ट का कॉलर पकड़ा और अपनी ओर खींचा.

मैं उनके ऊपर गिर गया था.
उन्होंने अपने होंठों को मेरे होंठों से लगा दिया और हम दोनों प्यासे प्रेमियों की तरह किस करने लगे.

मैं भी विनी मैडम का साथ देने लगा.
कुछ देर तक यूं ही किस करने के बाद मैडम थोड़ा नीचे हुईं और उन्होंने मेरे पैंट के हुक को खोल दिया.

हुक खुलते ही उन्होंने मेरी पैंट को नीचे कर दिया और मेरे लंड को बाहर निकाल लिया.

वे उसे अपनी मुट्ठी में जोर से पकड़ कर हिलाने लगीं और मसलने लगीं.

मुझको उन्हें अपने हाथ से मेरे लौड़े के साथ अठखेलियां करती देख बहुत मज़ा आने लगा.
तभी मैंने उन्हें लंड को मुँह में लेने का इशारा किया.

उन्होंने अगले ही पल लंड को अपने मुँह में भर लिया.
जैसे ही मैडम ने लंड को मुँह में लिया, मेरे मुँह से ‘आहह आहह … साली रांड चूस ले बहन की लौड़ी …’ की गाली भरी आवाज निकलने लगी.

वे अपने लिए गाली सुनकर और मस्त होने लगीं और जोर जोर से लंड को अन्दर बाहर करती हुई चूसने लगीं.

कुछ देर तक लंड चूसने के बाद मैंने मैडम के सारे कपड़े उतार दिए.
अब वे एकदम नंगी हो गई थीं और मैं भी नंगा हो गया था.

फिर मैडम और मैं 69 के पोज में आ गए.
हॉट पोर्न टीचर की चिकनी बुर की महक बहुत अच्छी थी और चूत एकदम गोरी भी थी.

उसके बाद मैं मैडम की चूत चाटने लगा.
उनकी चूत काफी गर्म थी. मुझे उनकी चूत चूसने में काफी मज़ा आ रहा था.

वे मेरे लौड़े के साथ साथ मेरे टट्टे भी चूसने लगी थीं.

कुछ देर के बाद मैंने मैडम को सीधा लिटाया और उनकी चूत में अपना लंड लगा दिया.
कुछ देर तक मैंने लंड से चूत को रगड़ कर सहलाया और दाने को भी लौड़े की नोक से कुरेदा.

मैडम एकदम हॉर्नी हो गई थीं और बार बार अपनी गांड उठा कर लंड को खाने की कोशिश कर रही थीं.
उनकी चूत का मुँह एकदम से गीला हो गया था.

मैंने एकदम से लंड को चूत के अन्दर तक पेल दिया.
एकदम से लंड घुसने से मैडम को झटका सा लगा और उनके मुँह बड़ी जोर से आवाज निकली ‘आह मम्मी से मैं मर गयी.’

मैं उनकी तेज आवाज सुनकर घबरा गया.
मुझे मालूम ही नहीं था कि मैडम इतनी जोर से क्यों चिल्लाई.

दरअसल वे कुंवारी थीं और एकदम से लंड को अन्दर तक पेल देने से उनकी सील टूट गई थी.
मैंने उनकी चूत में लंड घुसाए रहा और पूछने लगा- क्या हुआ बेबी … आपने इससे पहले कब सेक्स किया था?

इस पर वे कराहती हुई बताने लगीं- मैं आज पहली बार सही से चुद रही हूँ. तुमसे पहले मेरे ऊपर मेरा एक ब्वॉयफ्रेंड चढ़ा था. लेकिन उसका हथियार छोटा होने की वजह से मेरी सील टूट ही न सकी थी.

मैडम को अपने ब्वॉयफ्रेंड से चुदने में मजा नहीं आया था, वे ऐसा बता रही थीं.

मैंने मैडम के कान में धीरे से कहा- मैं हूँ ना बेबी … अब आप टेंशन मत लेना. मैं आपको पूरा मजा दूंगा.
यह कह कर मैंने मैडम की चूत में लंड पेलना शुरू कर दिया.

कुछ ही देर के दर्द के बाद उनको भी बहुत ज्यादा मजा आने लगा था.
वे भी नीचे से अपनी गांड उठाने लगी थीं.

यह देख कर मैं भी जोर जोर से उनकी चूत में लंड को ठोक रहा था.

उनकी मस्ती भरी मादक आवाज निकल रही थी- आह आहह और जोर से आ उहह!
वे इतनी जोर जोर से सिसकारियां ले रही थीं कि क्या ही कहूँ … मुझे बेहद मजा आ रहा था.

स्पीकर की आवाज बढ़ाने की वजह से मैडम की मादक आवाजें कमरे के बाहर नहीं जा रही थीं.

अब मैंने मैडम को एक तरफ करवट लेकर लिटा दिया और उनकी एक टांग उठा कर पीछे से लंड को उनकी चूत में डाल कर धकापेल करने लगा.
उनके मम्मे मस्त हिल रहे थे तो एक हाथ से मैं उनके मम्मे दबाता हुआ चोद रहा था.

जब मैडम पूरी तरह से संतुष्ट हो गईं, तो वे झड़ने लगीं.
मैं भी थक चुका था.

मैंने कहा- बेबी, क्या मैं तुम्हारी गांड में अपना लंड डाल लूँ?
तो उन्होंने कहा- तुम्हें जो करना है सो करो!

यह सुनकर मैं खुश हो गया.

मैंने हॉट पोर्न टीचर को उल्टा किया और अपने लंड को गांड में जैसे ही डाला, मैडम जोर से चिल्लाने लगीं- नहीं, इधर दर्द हो रहा है, इधर अभी मत करो!

लेकिन मैंने उनकी एक भी ना सुनी और चोदता चला गया.

कुछ ही देर में उनको भी चैन पड़ गया और मुझे भी मैडम को चोदने में काफी मजा आया.

मैंने कुछ देर बाद अपना रस छोड़ दिया और हम दोनों निढाल होकर लेट गए.
फिर मैंने उठ कर स्पीकर को बंद कर दिया. हम दोनों ने अपने अपने कपड़े पहन लिए.

मैंने जाने के लिए मैडम से इजाजत मांगी, तो मैडम ने मेरे होंठों पर एक लंबा चुंबन किया और मैं कमरे का दरवाजा खोल कर अपने हॉस्टल चला गया.
उसके बाद मैंने और मैडम ने कई बार सेक्स किया. अब उनकी शादी हो गई है.

तो यह थी मेरी सच्ची हॉट पोर्न टीचर Xxx कहानी, आपको कैसी लगी, आप मुझे मेल से बता सकते हैं.