लॉकडाउन में पड़ोस की हॉट आंटी को चोदा – Aunty Ki Chudai

मेरा नाम बिटटू है, और आज मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने लॉकडाउन में अपने पड़ोस की आंटी को चोदा। तो अब मैं आंटी के बारे में आपको बता देता हूँ।

आंटी का नाम पूनम है, और उनका फिगर बहुत मस्त है स्पेशली उनके बूब्स बहुत बड़े हैं। उनके घर में उनका पति और एक बेटी रहती है, उनकी बेटी अस्पताल में नर्स है और पउनके ति एमआईडीसी में काम करते हैं।

तो यह बात लॉकडाउन शुरू होकर एक महीना हुआ था, लॉकडाउन के रूल के कारण उनकी बेटी और पति को काम पर जाना पड़ता था। हम एक ही बिल्डिंग में रहते थे, तो आंटी सबके मोहल्ले पर उनके फ्लोर पर वो अकेले अकेले ही रहती थी।

पूनम आंटी की उम्र 40 है, और डऊटी लगने के वजह से उनके पति और बेटे को काम पर रुकना पड़ा। उसके वजह से आंटी घर पर अकेली रहती थी, और घर पर कोई नहीं होने की वजह से वह बोर होने लगी थी।

इसलिए वह कभी कबार मुझे अपने घर पर बुलाती थी, हम लूडो या पत्ते खेल कर टाइम निकाल देते थे। कभी कबार हम टीवी पर मूवीस देखने लगते थे, और अपना समय निकालते थे।

ऐसे ही तीन-चार दिन हो गये, मैं ज्यादा टाइम आंटी के घर पर रहने लग गया। उसके बाद मुझे आंटी की तरफ अट्रैक्शन होने लग गया था, क्योंकि ज्यादा समय मै आंटी के साथ रहता था। इसलिए अब मुझे उनके उनके बूब्स को दिखने लग गये थे।

अब मेरा लैंड खड़ा होने लग गया, तभी मैंने सोचा था कि इस लॉकडाउन का फायदा उठा कर मैं आंटी के साथ सेक्स जरुर करूँगा। तो मैंने प्लान बनाकर आंटी को सीरियस करने लग गया, तो मैंने अपना प्लान शुरू किया।

जब भी मैं अपने आंटी के घर जाने लग गया, तो मैं जाते समय अपना अंडरवियर नहीं पहनता था। मैं सिर्फ पेंट पहनता था जिसमें से आंटी को मेरा लैंड खड़ा हुआ आराम से दिख जाये।

तो मैं आंटी के घर जाकर उन्हें कहता था, कि आज हम कोई रोमांटिक मूवी देखते है। तो हमने तीन-चार दिन तक रोमांटिक मूवीस देखना स्टार्ट किया, जिसमें वह अलग अलग टाइप के किसिंग सीन सा दिखने लग गयी थी।

उसे देख कर अब आंटी भी एक्साइट होने लगी थी, कभी कबर मैं उनको डांस सिखाने लग गया गया था और उनके साथ डांस करने लग गया था। वह भी मुझे साथ देती थी, और मुझे कभी कुछ नहीं कहती थी। तो मैं भी और एक सेट होने लग गया।

अब मैं उन्हें सेक्सी मूवी दिखाने लग गया, जिनमें और हॉट सेक्स सीन थे। उसे देख ले मेरा लंड खड़ा होता था, और आंटी वह चोरी चोरी देखती थी।

उनकी नजर उस पर पड़ती थी और ये सब मैं देख रहा था, शायद उन्हें वह पता नहीं था। मुझे भी अब ये अच्छा लगने लग गया था, वेसे मेरे लंड की साइज 5 इंच है।

इसकी वजह से ही मेरा लंड बड़ा था, और पेंट में से थोड़ा बाहर भी आता था। अब मैं मूवी देखते समय पूनम आंटी के पास बैठता था, और अपना हाथ उनके कंधों पर रखने लग गया था।

कभी कबार मूवी देखते समय वह अपना हाथ मेरे झांग पर रख देती थी। ये सब सभ अब नॉर्मल हो गया था, तो मैंने प्लान को आगे बढ़ाने के बारे में सोचा।

अब मैंने वैसे ही किया, अब मैं सेक्स मूवीस लगाता था तो वह भी पहले देखने के लिए मना करती थी। पर अब वह देखने के लिए मान जाती थी।

अब जब भी सेक्सी सा कुछ आता था.. तो उनकी सांसे भर जाती थी और मेरा लैंड खड़ा हो जाता था। आंटी उसे देखती रहती थी, अब मैं इसका फायदा उठाने लग गया।

मैं अब उनकी जांघ पर हाथ फेरने लग गया, और साथ हि अब मैं पेंट के ऊपर से ही लंड को सहलाने लग गया। वह भी ये सब देख रही थी, अब पूनम की सांस बढ़ने लगने लगी, उसके वजह से उनके बूब्स भी हिलने लगे थे।

उसे देख मेरा लंड और एक खड़ा होने लग गया था, अब मैं उसे पैंट के ऊपर से ही हिलाने लगने लग गया। मैं कभी कबार आंटी को लंड के दर्शन कराता था।

अब मूवी में चोदने का सीन आया, तो उसे देख आंटी ने अपना मुंह फेर लिया। मुझे लग गया कि आंटी को ये पसंद नहीं आया है, इसलिए मैंने आंटी को पूछा।

मैं – आंटी मैं मूवीस बंद करूँ या आगे चला दूँ?

आंटी ने मुझे कुछ भी रिप्लाई नहीं दिया, तो मैं समझ गया कि आंटी चाहती है कि वह मूवी का सीन चले। तो मैंने उसे 2 मिनट के लिए वैसे ही चलने दिया।

ऐसे रोमांचक अनुभव मैंने पहले Delhi Call Girl के साथ भी किया हुआ है।

तो मैंने देखा कि आंटी का कोई भी रिप्लाई नहीं आ रहा है, और वो कोई गुस्सा भी नही रही है। तो मुझे ये देख कर राहत मिली, अब मैं आंटी के बूब्स को चुपके चुपके देखने लग गया था।

आंटी को ये सब समझ आ रहा था, कि मैं उनके बूब्स देख रहा हूं। तो उन्होंने इस पर मुझे एक छोटी सी स्माइल दी, और मैं भी एक दम से समझ गया।

अब मैं अपना एक हाथ आंटी के कंधे पर रखकर उनका कंधासहलाने लग गया। मैं अपने दुसरे हाथ से उनके पैरों को सहलाने लग गया, तो आंटी को भी अब अच्छा लगने लग गया।

अब मैं आंटी को बोला – अगर मैं आपको पूनम बोलू तो चलेगा क्या?

आंटी – हाँ चलेगा।

अब मैं और एक पक्का हो गया, जैसे कि मैं स्वर्ग में हूँ। अब वह मुझे देख रही थी, और मैं उनको देख रहा था। अब मैं हिम्मत करके उनके पास गया, और उनको एक छोटा सा किस किया।

तो उन्होंने कुछ भी नहीं किया, तो मैंने छोटी सी स्माइल दी और मै उनके ऊपर के होंठ को किस करने लग गया। मैंने अपना एक हाथ उनके बूब्स पर रख कर उसे थोड़ा मसलना शुरू कर दिया।

तो उनका कुछ भी रिएक्शन न देख कर मैं और खुश हो गया। अब मैंने अपना हाथ उनकी मैक्सी के अंदर डालकर, उनके बूब्स दबाना शुरू कर दिया।

अब वह भी मेरा साथ देने लग गयी थी, आखिर एक औरत कितनी देर तक सेक्स से दूर रहेगी। तो मैंने उनकी ब्रा के अंदर हाथ डाल कर, उनके बूब्स मसलना शुरू कर दिया।

फिर मैं उनके ऊपर चढ़ गया, और मैं उनको फ्रेंच किस करने लग गया। वह भी मेरा पूरा साथ दे रही थी, अब मैं उनको उठाकर बेडरूम में ले गया।

मैं – आंटी मैं आपसे बहुत प्यार करता हूं, जब से मैंने आपको देखा है बस मै आपके के हि बारे में सोचता रहता हूँ। अब मैं आपके साथ सेक्स करना चाहता हूं?

तो उन्होंने भी मुझे स्माइल देते हुए खा – मैं भी इसके लिए भूखी हूं, आजा मेरी भूख मिटा दे।

अब मुझ पर सेक्स का भूत चढ़ गया था, मैं तो अभी उनको बहुत बुरी तरह से चोदना चाहता था। मैंने उनकी मैक्सी निकाली और अपने दोनों हाथ उनके बूब्स पर रख कर उनके बूब्स को मसलने लग गया।

अब मैं उन्हें किस करने लग गया, करीब 3 मिनट तक मैं ऐसे हि करता रहा। उसके बाद में मैं उनको चाटने लग गया और उनकी गर्दन पर किस करने लग गया।

फिर मैं उनके बूब्स पर आया और उसके निपल्स को चाटने लग गया। जिसके वजह से अब आंटी और ज्यादा गरम होने लग गयी, फिर मैं उनके बूब्स को काटने लग गया।

अब मै उनके बूब्स को चूसने लग गया, मैंने उनके दोनों बूब्स को काफी देर तक चूसा। मैंने करीब 4 मिनट तक ऐसा किया, और एसे करते करते मैं अब नीचे आने लग गया।

मैंने उनकी ब्लैक कलर की पंटी को अब नीचे उतारा और मैंने देखा कि उनकी चूत एक दम क्लीन शेव थी। अब मैं उनकी चूत पर जीभ रख कर चाटने लग गया।

अब उनके मुंह से ऐसी आवाज आने लग गयी, की उसे सुन कर अब मैं और भी गरम होने लग गया। अब मैंने अपनी एक उंगली उनकी चूत में डाली और मैं उनकी चूत को चाटने लग गया।

अब पूनम आंटी ने अपने दोनों हाथ मेरे सर पर रख कर, मेरे चेहरे को अपनी चूत पर रगड़ने लग गयी। अब मैंने अपनी शर्ट निकाली और आंटी के मुंह के सामने मैं खड़ा हो गया।

मैं – अब आप मेरी पेंट उतारो।

अब उन्होंने अपने हाथों से मेरे पेंट उंटारी और मेरे नंगे छोटे को अपने जीब से चाटने लग गयी। अब मुझे बहुत मजा आने लग गया, अब उन्होंने मेरे लंड को आइसक्रीम की तरह चाटना शुर कर दिया।

अब वो स्लोली स्लोली मेरा पूरा लंड अपने मुंह में डालने लग गयी। अब मैं बहुत गरम हो गया था। मैंने अपने दोनों हाथ को उनके सिर पर रखकर अपना पूरा लंड उनके मुंह में डाल दिया।

करीब 1 मिनट तक मैंने उनका मुंह अपने लंड से बंद रखा, इसकी वजह से उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने लगी। अब मैंने लंड बाहर निकाल के तेजी से अपना लंड फिर से उनके मुंह में अंदर बाहर करन शुरू कर दिया।

अब मैंने अपना लंड उनकी चूत में डालने के लिए तैयार कर लिया था। फिर मैंने उनकी चूत पर थूक लगा कर अपना लंड लंड स्लोली स्लोली अंदर डालना शुरू कर दिया।

उनकी चूत बहुत ही टाइट थी, तो मुझे लंड अंदर बहार करने में अब तकलीफ हो रही थी। फिर बाद में मैंने एक ही धके में पूरा लंड उनकी चूत में डाल दिया। लंड अंदर जाने की वजह से उन्हें अब दर्द हुआ और वो और जोर से चिल्लाने लग गयी। अब उनके मुझे चिल्लाने में मुझे बहुत मजा आने लग गया।

अब मैं अपने लंड को अंदर बाहर करने लग गया, और स्लोली स्लोली उनके मुंह से अलग अलग आवाज आने लग गयी।

आंटी – आहा ओहो आहा ओहो ओ माय गॉड प्लीज।

मैं ऐसी बातें सुनकर मैं और गरम हो गया, और अब मैं लंड जोरो जोरो से अंदर-बाहर करने लग गया। तो वो दर्द की वजह से और जोर से जोर चिल्लाने लग गयी।

अब मैं और खुश हो गया, और अब मैंने अपना लंड बहार निकला और मैं खड़ा हो गया। अब मैंने उनकी गर्दन पर हाथ रख कर, अपना लंड उनके गले में डाल कर उनका मुंह जोर जोर से चोदने लग गया।

फिर मैं उनके बूब्स को चूसने लग गया, करीब 20 मिनट के बाद अब मैं झड़ने वाला था।

मैं – मैं अंदर अपना पानी आपके मुँह में डाल दूँ?

आंटी – हाँ सारा पानी मेरे मुँह में डाल दो।

ये सुन कर मैं खुश हो गया, फिर मैंने अपना लंड बाहर निकाला और उनके मुंह पर अपना पूरा रस निकाल दिया। उन्होंने स्लोली स्लोली मेरा सारा पानी पि लिया।

अब आंटी मुझे प्यासी नजरो से देख रही थी, तो मैं भी पानी पिने में उनका साथ देने लग गया। मैं उन्हें किस करते हुए अपना सारा पानी उनके होंठो से किस करते हुए पिने लग गया।

अब हर रोज मैं उन्हें चोदने लग गया, और चार-चार घंटे उनके घर रहकर मैं उनके साथ सेक्स करता था। फिर 15 दिनों के बाद मैंने उनकी गांड भी मारी, उनकी ग्रांड वर्जिनिटी थी।

ये सब मैंने केसे किया, ये मैं आपको अपनी अगली स्टोरी में बताऊंगा।